“चिता की राख से स्त्री वशीकरण कैसे करें: अद्भुत मंत्र उपाय”

“चिता की राख से स्त्री वशीकरण कैसे करें:

बशीकरण एक प्राचीन कला है जिसका उदेश्य किसी ब्यक्ति को अपनी इछानुसारे आकर्षित करना होता है । “चिता की राख से स्त्री वशीकरण” एक ऐसा बिशेष बिधि है जो एक प्रक्रिया के माध्यम से मान्यता प्राप्त है । इस बिधि में, चिता से प्राप्त राख का उपयोग किया जाता है जिसका माना जाता है कि बह बशीकरण की शक्ति में बढ़ोतरी करता है ।

इस बिशेष बशीकरण प्रक्रिया में कुछ अद्दभुत मंत्र उपाय होते हैं जो बिशेष रूप से स्त्रीयों के लिए उपयोगी माने जाते हैं । यह उपाय आपके अभिलाषित उदेश्यों को प्राप्त करने में सहायक हो सकते है ,लेकिन ध्यान दें कि किसी को बिना उनकी सहमति के बश में करने का प्रयास करना नैतिकता के खिलाप हो सकता है ।

मंत्र :

“प्रेम कजला प्रेम सलाई, प्रेम जोगन बन बन मोहन आइ । मुई मिट्टी कीजिए गुलाम, पड़ी बैठा करे सलाम । भगत कबीर भक्त चलाई, खेडदी खोडदी पकड़ मंगाई । पर हाँ चरक्यूं लाबे, लाईला आनिस ईल्लाह आन मलीस । मह्म्म्दुर्रसुल्लाह में बाझ, फलानी शख्सानी को घड़ी पल आराम नबीस ।” (यंहा मंत्र सम्पूर्ण नही दिया हूँ , ताकि मंत्र का कोई दुरूपयोग ना कर सके)

बिधि :-  नौचन्दी मंगलबार की रात्रि में कब्रिस्तान में जाबे फिर किसी कब्र के पास जाकर बंहा गुलाब के  फूल रखे । उस कब्र के पास बैठकर इस मंत्र का १४१ बार जप करे । इस प्रकार नित्य ४१ दिनों तक करे घबराय नहीं । इस प्रकार करने से यह मंत्र सिद्ध हो जाता है । फिर शमशान में जाबे और उस चिता के पास जाबे जो ताजा जली हुई हो एबं उस पर पानी नहीं गिरा हो । उस चिता की राख को इस मंत्र से ४१ बार अभिमंत्रित करे । इस मंत्र में जंहा पर फलानी शव्द आया है बहाँ पर जिस स्त्री –पुरुष को बश में करना हो उसका नाम लेना चाहिए । इस चिता की राख को जिसके नाम से अभिमंत्रित कर उसके सर पर थोडीसी भी डाल देबे तो बह बश में हो जायेगा ।

ध्यान दें कि यह सिर्फ जानकारी के उद्देश्य से दी गई है और यह सलाह नहीं है कि आपको किसी को वश में करने का प्रयास करना चाहिए। सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त करने के लिए, विशेषज्ञ की सलाह लेना सुरक्षित होता है।

Connect with us on our Facebook Page : Tantra Jyotis

आचार्य प्रदीप कुमार (मो) -9438741641 (Call/Whatsapp)

Leave a Comment